• Fri. Jul 1st, 2022

Corona Virus Vaccine in hindi – जानिए कितना प्रभावी होगा कोरोना वैक्सीन, कीमत और डोज़ – corona vaccine hindi me

कोरोना वायरस के पूरे विश्व में फैलने के साथ ही कोरोना वायरस का वैक्सीन की चर्चा पूरी दुनिया में शुरू हो गयी थी। इसके साथ ही लोगों के जेहन में भी सवाल आने लगे थे कि कोरोना की वैक्सीन कब तक आएगी या कोरोना की वैक्सीन कब तक बनेगी। इसके अलावा लोग ये भी जानना चाहते थे कि कोरोना की वैक्सीन बनी या नहीं या कोरोना की वैक्सीन बन गई क्या।

अगर अब भी आपके मन में सवाल है कि कोरोना की वैक्सीन आई कि नहीं, तो इसका जवाब अब मिल चुका है। क्यों कि वैज्ञानिकों के अथक प्रयास के बाद कोरोना का वैक्सीन मिल चुका है।

कोरोना वायरस वैक्सीन AZD1222 – corona vaccine hindi me

AZD1222 कोरोना वैक्सीन ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी तथा एस्ट्रेजनेका (coronavirus vaccine oxford astrazeneca) ने मिलकर तैयार किया है। Covid 19 vaccine को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी तथा अस्ट्राजेनेका ने adenovirus ChAdOx1 को modified करते हुए तैयार किया है।

Vaccine azd1222 को ChAdOx1 nCoV-19 के नाम से भी जाना जाता है। विश्व के अलग – अलग देशों में azd1222 अलग-अलग नामों से जाना जा सकता है। जैसे कि भारत में ऑक्सफोर्ड-अस्ट्राजेनेका वैक्सीन कोविशिल्ड नाम से जाना जाएगा।

भारत में कोरोना वायरस वैक्सीन – AstraZeneca-Oxford vaccine india

कोरोना वैक्सीन के बारे में कोरोना वैक्सीन अपडेट ये है कि कोरोना वैक्सीन के सफल परीक्षण के बाद कई देशों में oxford corona vaccine को मंजूरी मिल चुकी है। भारत ने भी 1 जनवरी 2021 को कोरोना वायरस के वैक्सीन को एमरजेंसी उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है। ये वैक्सीन भारत में सीरम इंस्टिट्यूट ने तैयार किया है। ये ऑक्सफ़ोर्ड तथा अस्ट्राजेनेका के ही वैक्सीन AZD1222 का भारतीय रूप है। भारत में में Vaccine AZD1222 Covishield के नाम से उपलब्ध होगा।

चलिए कोरोना वायरस वैक्सीन के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें बताते हैं जो आपको पता होनी चाहिए – Corona virus vaccine info in hindi

कोरोना वायरस वैक्सीन कितना प्रभावी है – Corona Virus vaccine efficacy in Hindi

AstraZeneca-Oxford Covid-19 vaccine (अस्ट्राजेनेका ऑक्सफोर्ड कोविड 19 वैक्सीन) के संबंध में अब तक कई रिपोर्ट प्रकाशित हुए हैं। इनमें है परीक्षण के आधार पर कहा गया है कि यह वैक्सीन काफी प्रभावी हैं।

वैक्सीन के दो अलग अलग डोज़ पर रिसर्च रिपोर्ट में कहा गया है कि ये क्रमशः 90 प्रतिशत तथा 62 प्रतिशत प्रभावी है। कोरोना वायरस के ट्रायल में भाग लेने वालों पर प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया कि भाग लेने वाले लोगों में जिन्होंने 1 महीने के अंतर पर वायरस वैक्सीन के दोनों Dose लिया, उनमें वैक्सीन की efficacy 62 परसेंट दर्ज की गई। जबकि जिन्होंने पहले Low Dose वैक्सीन लिया तथा उसके बाद फुल डोज़ लिया, उनमें वैक्सीन की efficacy 90 परसेंट दर्ज की गई।

क्या अस्ट्राजेनेका – ऑक्सफोर्ड वैक्सीन सुरक्षित है – is oxfordZeneca Vaccine Safe ?

इसे हम लोगों के लिए उपयोग के लिए मंजूरी देने से पहले वैक्सीन को कई चरण के परीक्षण से गुजारा गया है। उसके बाद ही मंजूरी मिली है। अब तक जो परिणाम प्राप्त हुए हैं तथा कुछ मेडिकल जर्नल ने रिपोर्ट प्रकाशित किया है, उसके आधार पर कहा गया है कि यह ऑक्सफोर्ड अस्ट्राजेनेका कोरोना वैक्सीन AZD1222 पूरी तरीके से सुरक्षित है। यह रिपोर्ट ब्रिटेन, ब्राजील तथा साउथ अफ्रीका में लगभग 20000 लोगों पर किए गए परीक्षण के आधार पर तैयार किया गया था।

कोरोना वायरस वैक्सीन की कीमत – Corona virus vaccine price in india

कोरोना वायरस वैक्सीन की कीमत को लेकर अब तक आधिकारिक रूप से कुछ भी नहीं कहा गया है। हालांकि भारतीय संस्था सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया जिसने भारत में ऑक्सफोर्ड तथा अस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर तैयार वैक्सीन तैयार किया है, उसके एक अधिकारी ने यह संकेत दिए थे कि कोरोना वायरस वैक्सीन की कीमत भारत में 500 से ₹600 प्रति डोज़ हो सकती है।

क्योंकि कई अन्य कंपनियां भी कुरौना वायरस के लिए वैक्सीन तैयार कर रही हैं ऐसे में संभव है कि अलग-अलग कंपनियों के बाद चीन की कीमत अलग-अलग हो सकती है।

हालांकि भारत के लोगों के लिए खुशखबरी यह है कि यह भारत सरकार ने हाल ही में यह ऐलान किया था कि भारत में कोरोना वायरस वैक्सीन के लिए लोगों को कोई पैसे नहीं देने होंगे। तथा सरकार अपने खर्चे से लोगों को वैक्सीन उपलब्ध करवाएगी।

कोरोना वैक्सीन सबसे पहले किसे दिया जाएगा?

वैक्सीन सबसे पहले किसे दिया जाएगा इसे लेकर सरकार पिछले काफी समय से काम कर रही थी अब तक जो जानकारी उपलब्ध है उसके आधार पर कहें तो सबसे पहले स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन दी जाएगी। इसके बाद अन्य लोगों को प्राथमिकता के आधार पर कोरोना वायरस की वैक्सीन दी जाएगी।

धन्यवाद

फिजियोथेरेपी तथा स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी पाते रहने के लिए इस वेबसाइट के साथ जुड़े रहें साथ ही हमारे फेसबुक पेज से भी आप जुड़ सकते हैं

https://www.facebook.com/AidPhysioPage/

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *