• Sat. Nov 26th, 2022

Physiotherapist meaning in Hindi – फिजियोथेरेपिस्ट किसे कहते हैं या फिजियोथेरेपिस्ट क्या है – Physiotherapist hindi meaning

फिजियोथेरेपिस्ट की पूरी जानकारी – Physiotherapist full information in hindi

फिजियोथेरेपिस्ट मेडिकल फील्ड से यानी स्वास्थ क्षेत्र से जुड़े हुए डॉक्टर होते हैं। अगर आप जानना चाहते हैं कि physiotherapist meaning in hindi में क्या होता है या Physiotherapist hindi meaning स्थआ जानना चाहते है तो तो इसे अंत तक पढ़ें। Physiotherapist भी एक डॉक्टर की हैसियत से ही काम करते हैं। फिजियोथैरेपिस्ट का काम मरीजों का इलाज बिना किसी दवाई के ही विभिन्न तकनीकों द्वारा करना होता है।

ऐड फिजियो – aidphysio.com

physiotherapist ka hindi matlab यानी फिजियोथैरेपिस्ट को ही हिंदी में भौतिक चिकित्सक या सामान्य रूप से फिजिकल थैरेपिस्ट कहा जाता है इसके अलावा फिजियोथेरेपिस्ट को कई जगह डॉक्टर पीटी के नाम से भी जाना जाता है।

● फिजियोथैरेपिस्ट कौन बनता है – Physiotherapist full information in hindi

फिजियोथेरेपिस्ट बनने के लिए पहले किसी भी इंसान को साढ़े 4 साल की लंबी पढ़ाई करनी होती है। उसमें उसे मेडिकल फील्ड से ही जुड़े विभिन्न सब्जेक्ट्स को पढ़ना होता है। उसके बाद ही फिजियोथैरेपिस्ट बन पता है। आप समझ ले कि एक फिजियोथेरेपिस्ट को भी एक डॉक्टर की तरह ही पढ़ना होता है। उसके बाद ही वह फिजियोथैरेपिस्ट बन पाता है।

● फिजियोथेरेपिस्ट की पढ़ाई कब कर सकते हैं – Physiotherapy cource in hindi

कोई भी व्यक्ति 12वीं करने के बाद फिजियोथैरेपिस्ट बन सकता है इसके लिए वह फिजियोथेरेपी कॉलेज में एडमिशन ले सकता है। उन कॉलेजों में एडमिशन ले जहां Physiotherapy की पढ़ाई होती है। पढ़ाई करने के बाद वह फिजियोथेरेपिस्ट के रूप में किसी मरीज का इलाज कर सकता है। फिजियोथैरेपी कोर्स से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

● फिजियोथैरेपिस्ट कौन-कौन सी बीमारी का इलाज करता है?

फिजियोथेरेपी में काफी बीमारियों का इलाज है। विभिन्न प्रकार के दर्द से लेकर दर्जनों ऐसी बीमारियां है जिसका इलाज बड़े स्तर पर फिजियोथेरेपी में मौजूद है।

● क्या फिजियोथैरेपिस्ट कोई दवाई भी देते हैं?

जी नहीं, फिजियोथैरेपिस्ट कोई भी दवाई नहीं देते। बल्कि इलाज के लिए सिर्फ और सिर्फ उन्हें तकनीकों का उपयोग करते हैं जो कि उन्हें फिजियोथैरेपी की पढ़ाई के दौरान सिखाई जाती है तथा पढ़ाई जाती है।

आधुनिक युग में जिस तरीके से लोगों की जीवन शैली में बड़ा बदलाव हुआ है उस कारण फिजियोथैरेपिस्ट की भूमिका काफी बढ़ गई है। अगर आप देखेंगे तो जितने भी बड़े सेलिब्रिटी, खिलाड़ी अभिनेता हैं आज हर एक के पास अपना निजी फिजियोथैरेपिस्ट होता है। फिजियो विभिन्न तकनीकों का इस्तेमाल कर उन्हें स्वस्थ रहने में मदद करता है। कुल मिलाकर फिजियोथैरेपिस्ट की भी भूमिका वर्तमान समय में काफी आम हो चुकी है। आज आप बड़े से बड़े या छोटे से छोटे हॉस्पिटल में चले जाएं। सभी जगह आपको फिजियोथैरेपिस्ट नजर आ जाएंगे। क्योंकि स्वास्थ्य के क्षेत्र में अब फिजियोथैरेपिस्ट की भूमिका काफी अहम हो चली है।

● फिजियोथेरेपिस्ट कितने तरीके के होते हैं – Types of Physiotherapist

आपको बता दें कि तो बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी यानी बीपीटी (BPT) की पढ़ाई करने के बाद आते हैं, उनको फिजियोथेरेपिस्ट कहा जाता है। लेकिन इसके बाद अगर कोई आगे पढ़ना चाहे तो फिजियोथेरेपी के छेत्र में मास्टर डिग्री यानी MPT का भी विकल्प है। उस आधार पर देखें तो कई सारे फील्ड है जहां MPT किया जा सकता है। जैसे कि स्पोर्ट्स फिजियोथेरेपी (Sports Physiotherapist), न्यूरो फिजियोथेरेपी (Neuro Physiotherapist), ऑर्थो फिजियोथेरेपी (Ortho Physiotherapist) इत्यादि। इसी तरीके से और भी कई विषय हैं जिसमें MPT किया जा सकता है।

अब आपको Physiotherapist meaning in hindi में समझ में आ गया होगा। साथ ही Physiotherapy in hindi या Physiotherapy hindi mein समझ में आ गया होगा।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *