• Mon. Sep 13th, 2021

Liver fire in Hindi – लिवर की गर्मी के कारण, लिवर की गर्मी के लक्षण एंव लिवर की गर्मी के उपाय

यूं तो लिवर से जुड़ी कई बीमारी है। लेकिन लिवर की गर्मी (Liver ki garmi ) बढ़ने वाली बीमारी काफी आम है। ऐसे में कई लोगों के जहन में सवाल आता है कि लिवर की गर्मी क्यों बढ़ती है या लिवर की गर्मी के कारण (Cause of Liver Fire in Hindi) क्या हैं। लीवर की गर्मी बढ़ने के नुकसान क्या है (Liver ki garmi badhne ke Nuksan kya hain). लिवर की गर्मी के लक्षण क्या हैं या Jigar ki garmi symptoms kya hain. इसके अलावा लोग ये भी जानना चाहते हैं कि लिवर की गर्मी का इलाज (liver ki garmi ka ilaj) क्या है। अगर आप भी ये सब कुछ जानना चाहते हैं तो इस लेख को ध्यान से आखिर तक पढ़े।

चलिए सबसे पहले बात करते हैं कि लिवर की गर्मी क्यों बढ़ती है?

लिवर की गर्मी का कारण – Cause of Liver Fire in Hindi

लिवर में गर्मी होने के कारण (Liver ki garmi hone ke karan) – लिवर की गर्मी बढ़ने का कारण (Liver ki garmi badhne ka karan) जो सबसे बड़ा है, वह लोगों की तेजी से बदल रही जीवन शैली है। आज लोग संतुलित आहार पर ध्यान नहीं देते हैं। साथ ही है काफी अधिक मात्रा में शराब का सेवन और धूम्रपान भी करते हैं। यही सब आगे चलकर लिवर की गर्मी बढ़ने का कारण बनता है।

लिवर की गर्मी बढ़ने के प्रमुख कारणों (Liver Fire Cause in Hindi) की बात करें हैं तो अगर किसी व्यक्ति को लगातार कब्ज की शिकायत है तो उसमें लिवर की गर्मी बढ़ जाती है। इसके अलावा बहुत ज्यादा वसायुक्त या चिकना खाना खाने से भी गर्मी बढ़ती है। ज्यादा सिगरेट पीना, शराब पीना, नकली दवाओं का सेवन करना या गैर जरूरी दवाओं का सेवन करना, बहुत अधिक मसाला युक्त खाना खाना, तेल में तली हुई चीजें बहुत ज्यादा खाना इत्यादि लीवर गर्मी बढ़ाने में काफी ज्यादा योगदान देता है।

अगर कोई व्यक्ति किसी ऐसी बीमारी से ग्रसित है जिसके इलाज के लिए काफी हाई डोज का एंटीबायोटिक दिया जा रहा है तो लगातार एंटीबायोटिक के उपयोग से भी लीवर को नुकसान हो सकता है तथा लिवर की गर्मी (Liver ki garmi) या Jigar ki Garmi बढ़ने लगती है।

अब तक आप यह जान चुके हैं कि लिवर की गर्मी क्यों बढ़ती है। तो चलिए अब बात करते हैं कि अगर लिवर की गर्मी बढ़ती है तो इसके क्या नुकसान होते हैं।

लिवर की गर्मी बढ़ने के नुकसान या जिगर की गर्मी बढ़ने के नुकसान – Liver ki garmi se kya hota hai

लिवर की गर्मी बढ़ने से या जिगर की गर्मी बढ़ने से होने वाले नुकसान को समझने के लिए पहले आपको यह समझना होगा कि लीवर हमारे शरीर में क्या करता है यानी Liver ka Function kya hai तथा इसका क्या महत्व है।

Liver ki garmi hindi me

तो बता दें कि लीवर हमारे शरीर में एक दो नहीं बल्कि सैकड़ों तरीके के कामों को अंजाम देता है ताकि एक व्यक्ति स्वस्थ और सुकून भरा जीवन जी सके।

लीवर के मुख्य कामों (Liver ka kaam) की बात करें तो यह भोजन पचाने, शरीर में उर्जा प्रदान करने, शरीर में मौजूद जहरीले तत्वों हो को बाहर निकालने इत्यादि का काम करता है। दरअसल इन सभी कामों को करने के लिए जिन हारमोंस और एंजाइम की जरूरत होती है वह लीवर ही रिलीज़ करता है। साथ ही लीवर इन सभी कामों को सुचारू रूप से बनाए रखते हुए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है तथा बीमारियों से लड़ने की ताकत देता है।

अब जैसे ही कोई व्यक्ति लिवर की गर्मी बढ़ने वाली बीमारी से ग्रसित होता है, उनमें यह सभी फंक्शन अल्टर होना शुरू हो जाता है। liver ki garmi badhne ke lakshan या लिवर की गर्मी के लक्षण के तौर पर ये दिखेगा की जैसे ही लिवर की गर्मी बढ़ेगी, भोजन ना पचने की समस्या आने लगती है। तथा व्यक्ति को कब्ज होना शुरू हो जाता है। शरीर में जहरीले तत्वों की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे खून जहरीला होता है तथा यह कई अन्य बीमारियों का कारण बनने लगता है। साथ ही व्यक्ति को धीरे-धीरे कमजोरी होने लगती है। इस दौरान अगर व्यक्ति दुर्भाग्य से किसी और दूसरी बीमारी से ग्रसित हो जाता है तो उसका शरीर उस बीमारी से पूरी तरीके से नहीं लड़ पाता है। ऐसे में स्थिति और बिगड़ने लगती है।

लिवर की गर्मी के लक्षण – Liver ki garmi ke lakshan in hindi

Liver ki garmi ke lakshan – अब यहां आपके मन में एक सवाल आ रहा होगा कि आपको कैसे पता चलेगा कि आपका लीवर ठीक ढंग से काम कर रहा है या नहीं या लिवर की गर्मी को कैसे पहचाने।

तो लीवर की गर्मी बढ़ने पर आपको कई तरह के लक्षण (liver ki garmi ke lakshan in hindi) दिखने लगते हैं, जिससे लिवर की गर्मी को कैसे पहचाने इसका भी जवाब आपको मिल जाएगा।

Symptoms of liver ki garmi या लिवर की गर्मी के लक्षण (Liver ki garmi lakshan) के तौर पर आपको निम्नलिखित चीजें देखने को मिलेगीं –

-मुंह से दुर्गंध आना
-पेट में सूजन आ जाना
-पाचन तंत्र का खराब हो जाना
-चेहरे और आंखों का रंग पीला पड़ने लगना
-पेशाब का रंग बदल जाना
-पैरों में सूजन हो जाना
-बहुत ज्यादा कमजोरी महसूस होना
-कहीं कट-फट जाने पर जल्दी खून का ना रुकना
-आंख के नीचे डार्क सर्किल का बनने लगना इत्यादि….

यह सभी लीवर के खराब होने के लक्षण (Symptoms of liver ki garmi) होते हैं। अगर किसी में ये लक्षण दिखने लगे हैं तो समझ जाएं कि लिवर की गर्मी बढ़ रही है। अब आपको बहुत ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है।

लिवर की गर्मी का इलाज – liver ki garmi ka ilaj

जिगर की गर्मी बढ़ने के कारण, जिगर की गर्मी बढ़ने के लक्षण इत्यादि जानने के बाद आप जानना चाह रहे होंगे कि लिवर की गर्मी के लिए दवा क्या है या लिवर की गर्मी के उपाय क्या हैं या Liver ki garmi ke upay kya hain.

तो चलिए, हम आपको लिवर की गर्मी का इलाज इन हिंदी (liver ki garmi ka ilaj in hindi) में बताते हैं। इससे आपको इसका भी जवाब मिल जाएगा कि Liver ki garmi ka ilaj या liver ki garmi ka ilaj in hindi क्या है। इसके अलावा आपको ये भी पता चलेगा कि Liver ki garmi kaise dur karen या Liver ki garmi kaise kam karen.

चलिए, अब बात करते हैं कि लिवर की गर्मी को ठीक कैसे किया जा सकता है।

Liver ki garmi Treatment in Hindi – किसी भी बीमारी का इलाज उसके कारणों में ही छुपा होता है। जैसा कि आर्टिकल के शुरुआत में हमने लिवर की गर्मी बढ़ाने के कारणों के बारे में बताया है। तो इसे ठीक करने के लिए जरूरी ये है कि लिवर की गर्मी जिन कारणों से बढ़ती है उसे कम किया जाए।

लिवर की गर्मी के इलाज के तहत Liver ki garmi ke gharelu upay अपनाएं। Liver ki garmi ke gharelu upay निम्नलिखित हैं –

सबसे पहले तो अगर कोई व्यक्ति शराब का सेवन कर रहा है, तो वह पूरी तरीके से शराब पीना बंद कर दें।
सिगरेट भी ना पिए।
कम से कम वसायुक्त भोजन का सेवन करें।
भोजन के बनाने में कम से कम मसाले का उपयोग करें।
ज्यादा चिकना खाना ना खाएं।
तेल में तली हुई चीजों को खाने से परहेज करें।
साथ ही स्वस्थ संतुलित आहार को अपने जीवन में शामिल करें। जीवनशैली में बदलाव लाएं।

इन सबके अलावा लिवर की गर्मी बढ़ने के लक्षण दिखने लगे हैं, लिवर की गर्मी का इलाज (Liver ki garmi ka ilaj) या लिवर की गर्मी का घरेलू उपाय के तहत तो ठीक पहले बताई गई बातों को करने के साथ-साथ नियमित रूप से पानी पिए। लस्सी पीना शुरू कर दें। ज्यादा से ज्यादा फल खाएं। फलों के जूस का भी सेवन कर सकते हैं। खाने में हरी सब्जियों का ज्यादा इस्तेमाल करें ताकि आपको पर्याप्त मात्रा में पोषण मिल सके। खाने में ज्यादातर पालक, टमाटर, करेला, गाजर लौकी, गोभी, पत्ता गोभी, ब्रॉकली इत्यादि के ही सब्जियों का इस्तेमाल करें और नियमित रूप से पपीता, लीची जामुन, सेब, आंवला, गाजर इत्यादि फलों का सेवन करना शुरू कर दें।

यह सभी चीजें करने के साथ-साथ नियमित रूप से व्यायाम करना शुरू कर दें। सुबह में कुछ देर तक पैदल चलें इसके अलावा बहुत ज्यादा जरूरी होने पर ही दवाओं का इस्तेमाल करें। अगर समस्या अधिक है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

लिवर की गर्मी में क्या खाना चाहिए, ये जानने के लिए नीचे दिए गए आर्टिकल को ध्यान से पढ़िए

नोट – इस लेख में बताई गई बातें केवल जानकारी के उद्देश्य से बताई गई हैं। इस लेख के आधार पर खुद से इलाज संबंधित कोई फैसला न लें।

अगर आप इस बारे में अधिक जानकारी चाहते हैं या आप एक अच्छे Physiotherapist की तलाश में हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करते हुए व्हाट्सएप्प पर संपर्क कर सकते हैं।


व्हाट्सएप्प (WhatsApp) पर संपर्क करने के लिए यहां क्लिक करें


लगातार जानकारी पाते रहने के लिए हमसे आप व्हाट्सएप्प ग्रुप के माध्यम से भी जुड़ सकते हैं। ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

Share and Enjoy !

0Shares
0
One thought on “Liver fire in Hindi – लिवर की गर्मी के कारण, लिवर की गर्मी के लक्षण एंव लिवर की गर्मी के उपाय”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *